श्री राम दूत हनुमान मन्डल विजय वाडी जयपुर, इस महायग की रचना आनंदकंद सुपुत्र श्री बालाजी की कृपा प्रेरणा से १० मार्च २००७ को हुई | कुछ भक्तो ने जो स्नेहमयी वातावरण धर्म की आस्था वाले, और वो जो परमआनंद की खोज में थे | 


सभी ने मिल कर यह पौधा श्री १००८ महामंडलेश्वर श्री प्रेमदासजी महाराज खेडापति धाम "सामौद" (चामू) -जयपुर के पावन सानिध्य में, श्री दुर्गाप्रसाद शर्मा "ताउजी"  रानोली सीकर वालों की अध्यक्षता में मिल कर लगाया था | सभी ने मिलकर एक सुंदर संकल्प लेकर उसकी परवरिश व संरक्षण का अपने आप से वादा कर सुन्दर कांड जेसे महायॼ की ज्योति प्रज्वलित अपने दिलों में की |


श्री राम दूत हनुमान मण्डल की परिकल्पना ५-८ भक्तों के मन व दिल की सोच व सुंदर विचार का परिणाम है | 

श्री राम दूत हनुमान मण्डल

PHOTO | फोटो

WWW.SHRIRAMDOOT.ORG

श्री श्री 1008 महामंडलेश्वर प्रेमदास महाराज जी

Shri Ram Doot Hanuman Mandal

श्री राम दूत हनुमान मण्डल